Category Archives: Story

Light House

        उस रात लेहरों की रफ़्तार काफी तेज़ थी। उन लहरों की उंचाईयां कुछ और ही रुख बयान कर रही थी। भारी भरकम लहरें जब समंदर पार कर किनारो के पत्थरों से ‘धडाम$$…’ सी आवाज़ कर टकराती तो उसकी बड़ी छीटों की छलाँगे काफी दूर तक जा गिरतीं। वो रात लेहरों की… Read More »

Shuruaat

बहुत दूर से अपनी कदमो की कसरत करते हुये, थक हार कर एक पत्थर पर आकर मैं बैठ गया। उस वीरान रेगिस्तान में इतनी गरम हवा चल रही थी की कोई मजबूत जिस्म भी भुट्टे की तरह सेख जाए। उस तपते गर्मी ने कदम सख्त कर दिए थे और गला सुखा, अपने कंधे पर लटकाए… Read More »